वीओसी क्या है?

आप एक ताज़ा पेंट किए गए घर की गंध को हमेशा महसूस कर सकते हैं। नए पेंट से घर तो खूबसूरत लगता है लेकिन इसके साथ ही वीओसी भी पैदा होता है।

वीओसी एक कार्बन युक्त कंपाउंड है जो आसानी से भांप बनकर हवा में समा जाता है। वीओसी के कण हवा में प्रवेश करने पर दूसरे तत्वों के साथ रिएक्ट करके ओज़ोन निर्माण करते हैं, जिससे हवा प्रदूषित होती है। इस वजह से घर में रहने वालों को कई स्वास्थ्य समस्याएं होती हैं - जैसे सांस लेने में तकलीफ, सिरदर्द, आंखों में जलन, पानी आना और जी मिचलाना। कुछ प्रकार के वीओसी से कैंसर और किडनी/लीवर को नुकसान के लिए भी ज़िम्मेदार माना जाता है।

पेंट के सूखने के साथ ही, यह हानिकारक वीओसी हवा में ज़्यादा मात्रा में घुलने लगते हैं। घर के अंदर वीओसी का नियमित स्तर, बाहर की तुलना में 10 गुना अधिक होता है और पेंट किए जाने के तुरंत बाद यह 1000 गुना बढ़ जाता है। वैसे तो, वीओसी का स्तर पेंट किए जाने के दौरान और पेंटिंग के तुरंत बाद सबसे अधिक होता है, लेकिन यह कई सालों तक रिसाव जारी रहता है। वास्तव में, पेंट किए जाने के प्रथम वर्ष में सिर्फ 50 प्रतिशत वीओसी ही निकल पाते हैं।

यह सुनने में बेशक डरावना लगता है, लेकिन नेरोलैक के पास इसका समाधान है। 2011 में इस क्षेत्र में सबसे पहली बार नेरोलैक ने अपने प्रीमियम इंटीरियर और एक्सटीरियर इमल्शन की संपूर्ण रेंज को लगभग शून्य वीओसी युक्त बनाया। इसके साथ, अपनी लोकप्रिय इंटीरियर और एक्सटीरियर इमल्शन रेंज को भी कम वीओसी के साथ लॉन्च करने वाली भारत की पहली कंपनी बनी। वीओसी की बेहद कम मात्रा होने के कारण नेरोलैक के पेंट घरों में इस्तेमाल करने के लिए बिल्कुल सुरक्षित हैं और यह नेरोलैक के हेल्दी होम के सिद्धांत के अनुकूल है।

NEROLLAC

हमें अपने प्रश्न भेजें